यूपी पंचायत चुनाव: आरक्षण फार्मूले में देरी से दावेदार परेशान 

 सहारनपुर  
पंचायत चुनाव को लेकर आरक्षण तय होने में हो रही देरी ने दावेदारों की धड़कनें बढा दी हैं। आरक्षण फॉर्मूला आने में अभी 15 दिन और लगेंगे लेकिन, सत्ता के गलियारों से आ रही खबरों के अनुसार, आरक्षण के चलते इस बार दिग्गजों को झटका लगना तय है। पंचायतीराज मंत्री के ही अनुसार, 70 प्रतिशत सीटों पर बदलाव हो सकता है। 

उत्तर प्रदेश में त्रिस्तरीय पंचायत चुनव होने की तैयारी जोरों पर चल रही है। गांव गांव दावेदारों की लंबी सूची हैं। कुछ खुलकर सामने आ गए है तो कुछ दबी जुबान में तैयारी कर रहे है। लेकिन सभी की एक नजर आरक्षण के फार्मूला पर लगी हैं। हालांकि ज्यादातर दावेदारों के पास बी-प्लान भी हैं कि मेरा नहीं आया तो तेरा सही। एक दूसरे का समर्थन करने की भी बुनियाद तैयार की जा रही हैं। समर्थक भी असमंजस में हैं और कोई किसी को नाराज नहीं कर रहा हैं। लेकिन इंतज़ार जितना बढ़ता जा रहा हैं, दावेदारों की धड़कनें उतनी ही तेज होती जा रही हैं। 2015 में ग्राम पंचायतों में आरक्षण शून्य किया गया था। जो भी बड़ी वजह है कि उम्मीदवारों की उलझन और ज्यादा बढ़ गई है।
 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *