बिहार में धूप खिलने से थोड़ी राहत, आठ जिले अब भी कोल्ड डे की चपेट में

पटना 
बिहार के कई जिलों में ठंड की स्थिति में धीरे-धीरे सुधार होने लगा है। हालांकि, आठ जिले अब भी कड़ाके की ठंड की चपेट में हैं। पटना व इसके आसपास के जिलों में दिन में धूप निकल रही है। यहां अधिकतम एवं न्यूनतम तापमान में दो दिनों में तीन से छह डिग्री तक की बढ़ोतरी हुई है। 

मौसमविदों के मुताबिक राज्य में उत्तरी पश्चिमी हवाओं का प्रभाव बना हुआ है। पिछले 24 घंटों में पटना, पूर्णिया और भागलपुर में सुबह घना कोहरा देखा गया। इन जगहों पर विजिबिलिटी मात्र 50 मीटर की रही। पटना में दिन में धूप निकलने से लोगों ने राहत महसूस की लेकिन भागलपुर, मुजफ्फरपुर, पूर्णिया, छपरा और दरभंगा में अब भी गंभीर शीतदिवस की स्थिति बनी हुई है। सुपौल, फारबिसगंज और सबौर में अब भी शीत दिवस के हालात हैं। मौसम विज्ञान केंद्र ने तीन फरवरी तक औरेंज अलर्ट को बढ़ा दिया और ठंड से सचेत करने की अपील की है। 

अधिकतम तापमान में बढ़ोतरी
पटना में दिन में धूप निकली तो लोगों ने राहत महसूस की लेकिन शाम ढलते ही हवा में कनकनी बढ़ गई। बीते 24 घंटों में पटना व गया के अधिकतम तापमान में बढ़ोतरी हुई है। पटना का अधिकतम तापमान 21.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जबकि न्यूनतम पारा भी तीन डिग्री ऊपर चढ़कर 7.4 डिग्री पर पहुंच गया है। गया में अधिकतम तापमान 22.8 डिग्री पर रहा। सूबे में सबसे ठंडा गया रहां जहां न्यूनतम पारा 3.4 डिग्री दर्ज किया गया। भागलपुर का अधिकतम तापमान 22 डिग्री सेल्सियस जबकि न्यूनतम 6.6 डिग्री दर्ज किया गया। पूर्णिया में 17.2 जबकि न्यूनतम 8 डिग्री सेल्सियस रहा। पूर्णिया में अब भी अधिकतम तापमान सामान्य से आठ डिग्री नीचे है, जबकि बाकी शहरों में दो से तीन डिग्री का फासला रह गया है। गया में न्यूनतम पारा सामान्य से सात डिग्री तक नीचे रहने से ठंड बढ़ोतरी दर्ज की गई है। पूर्णिया में आर्द्रता 100 प्रतिशत तक रही। 

क्या है मौसमी सिस्टम 
मौसम विज्ञान केंद्र पटना के अनुसार मध्यप्रदेश व इसके आसपास प्रतिचक्रवात बना हुआ है। सतह पर उत्तर पश्चिमी हवाओं का प्रभाव है। इस वजह से न्यूनतम पारे में बदलाव के आसार नहीं हैं। उत्तर बिहार में कुछ जगहों पर घना कोहरा रह सकता है। राज्य के कई जिले अभी एक दो दिन तक कोल्ड डे की चपेट में रहेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *