एनएमसी की मंजूरी के बाद 1 दिसंबर से शुरू होंगी एमबीबीएस की क्लास

भोपाल
कोरोना संकट के कारण बीते आठ महीनों से बंद चल रहीं मेडिकल कॉलेजों में अब रूटीन क्लास शुरू की जाएंगी। नेशनल मेडिकल कमीशन की ओर से कक्षाएं शुरू करने की हरी झंडी मिलने के बाद मप्र आयुर्विज्ञान विश्वविद्यालय और कॉलेजों ने इसके लिए तैयारी शुरू कर दी है। आगामी 1  दिसंबर से प्रदेश के सरकारी और निजी मेडिकल कॉलेजों में एमबीबीएस की कक्षाएं शुरू होंगी। शुक्रवार को विश्वविद्यायल के कुलपति डॉ. टीएन दुबे ने प्रदेश के सभी निजी और सरकारी कॉलेजों के अधिष्ठाताओं से इस संबंध में चर्चा की है। मेडिकल यूनिवर्सिटी के कुलपति डॉ. टीएन दुबे ने कक्षाओं में संक्रमण रोकने के लिए स्थानीय स्तर पर प्रयासों के संबंध में चर्चा की। कॉलेज प्रबंधन के अलावा छात्र संगठनों से भी इस संबंध में चर्चा की जा रही है। कॉलेज स्तर पर मिले सुझावों के बाद आगामी दो दिन में व्यवस्थाएं दुरूस्त कर ली जाएंगीं।

गांधी मेडिकल कॉलेज प्रबंधन के मुताबिक छह महीने से बंद छात्रावास और कक्षाओं की साफ-सफाई कराने के बाद डिस्इन्फेक्ट कराना होगा। कॉलेज में मध्यप्रदेश के साथ ही अन्य राज्यों के छात्र भी पढ़ते हैं, उन्हें सूचना देनी होगी। सीमित ट्रेनें चल रही हैं, इसलिए छात्रों को आने-जाने में भी दिक्कत होगी। उन्होंने बताया कि एमबीबीएस में 180 विद्यार्थी हैं। तीन बैच बनाकर उन्हें अलग-अलग दिन बुलाया जाएगा, जिससे संक्रमण का खतरा न रहे। जीएमसी की डीन अरुणा कुमार ने इस संबंध में शुक्रवार को विभागाध्यक्षों के साथ बैठक की है। इसमें कहा गया है कि छात्रों को अपने साथ सैनिटाइजर खुद लाना होगा। बिना मास्क के कॉलेज परिसर में प्रवेश नहीं दिया जाएगा। बचाव के लिए शारीरिक दूरी का पालन कराने की जिम्मेदारी विभागाध्यक्षों की होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *